Connect with us

Tech News

Venus और Pluto की जमीन कैसी होगी! रिसर्च से आया सामने

Admin

Published

on

NDTV Gadgets 360 Hindi
क्या आपने कभी सोचा है, चांद या मंगल की जमीन पर खड़े होकर कैसा लगता होगा? 65 साल पहले जब Sputnik 1 को लॉन्च किया गया तो,  उसके बाद स्पेस को एक्सप्लोर करने की रुचि तेजी से बढ़ी और इसने कई खोजों को जन्म दिया। 

लेकिन हम केवल ये जानने की कोशिश कर रहे हैं कि सौर मंडल के दूसरे ग्रहों की जमीन कैसी है, अगर वहां जाया जा सके तो कैसा महसूस हो सकता है। Nature Astronomy में हमारी एक नई स्टडी प्रकाशित हुई है। यह बताती है कि दूसरे ग्रहों की जमीन पर मौजूद रेत के टीलों से पता लगाया जा सकता है कि अगर कोई व्यक्ति दूसरे ग्रह की सतह पर खड़ा हो तो कैसा महूसस कर सकता है, या वहां मौसम के कैसे हालात हो सकते हैं।

रेत का कण क्या होता है? अंग्रेजी के कवि विलियम ब्लेक ने हैरानी जताई कि दुनिया का रेत के कण में समा जाना क्या बताता है। अपनी रिसर्च में हमने इसी सिद्धांत को गहराई से लिया है। मकसद था ये समझना कि रेत के टीले होने पर किसी दूसरे ग्रह की जमीन पर कैसी परिस्थिति पैदा हो सकती है। 

दूसरे ग्रहों पर रेत के टीले होने के लिए कुछ चीजों का होना बहुत जरूरी है। सबसे पहले तो वहां कणों की मौजूदगी जरूरी है जो समय के साथ टूट भी सकें लेकिन कुछ समय तक टिकाऊ भी हों। वहां पर हवाओं की गति कम से कम इतनी तेज तो होनी चाहिए कि रेत के कण जमीन से ऊपर उठकर हवा में तैर सकें, लेकिन इतनी तेज नहीं कि वो उन्हें उड़ाकर वातावरण में ऊंचे ले जाए। 

अब तक हवाओं और रेत के कणों का सीधा माप केवल धरती और मंगल पर ही संभव हो सका है। हमने ये देखा है कि हवा के साथ उड़े कण सैटेलाइट के माध्यम से दूसरे पिंडों पर भी पहुंच जाते हैं (यहां तक कि कॉमेट्स पर भी)। इन पिंडों पर रेत के टीलों का होना यह जाहिर करता है कि गोल्डीलॉक (Goldilocks) परिस्थिति बन रही है। 

हमने अपना काम शुक्र, पृथ्वी, मंगल, टाइटन, ट्रिटॉन (नेप्च्यून का सबसे बड़ा चांद) और प्लूटो को ध्यान में रखकर किया। इन खगोलीय पिंडों के बारे में दशकों से वाद-विवाद चल रहा है जो किसी नतीजे पर नहीं पहुंचा है। 

हमें मंगल की सतह पर ऐसे रेत के टीले कैसे मिल जाते हैं, जबकि हम ये जानते हैं कि वहां पर हवा इतनी शक्तिशाली है नहीं कि रेत के कणों को अपने साथ उड़ा सके। क्या शुक्र का घना और कठोर वातावरण रेत के कणों को वैसे ही हिलाता है जैसे धरती पर पानी और हवा चलते हैं? हमारी स्टडी ने यह अनुमान लगाया है कि ऐसी जगहों पर रेत के कणों को अपने साथ चलाने के लिए कैसी हवाओं की जरूरत होगी, और कैसे ये कण इन हवाओं में टूटते होंगे। 

हमने ये अनुमान दूसरे रिसर्च पेपरों के नतीजों को साथ जोड़कर लगाया है, और सारे एक्सपेरिमेंटल डाटा के साथ इनको टेस्ट किया है। उसके बाद हमने इस थ्योरी को सभी 6 ग्रहों पर आजमाया, हमने टेलीस्कोप पर इनके चित्र तैयार किए और वहां की ग्रेविटी वातावरण की संरचना, सतह के तापमान और कणों की शक्ति जैसे कारकों को इसमें शामिल किया। 

हमसे पहले जो स्टडी आई हैं, उनमें ये देखा गया कि या तो वायु की एक न्यूनतम गति मौजूद हो या इन कणों की शक्ति हो, जो इन्हें एक जगह से दूसरी पर ले जा सके। लेकिन हमने इन दोनों कारकों को एक साथ जोड़ दिया, ये देखने के लिए कि कितनी आसानी से कण इन ग्रहों के वातावरण में टूट जाते हैं। 

मंगल के लिए हमारे जो नतीजे आए हैं, उनके मुताबिक, मंगल पर पृथ्वी से भी अधिक ऐसे मिट्टी वाले तूफान चलते हैं जो इस तरह के टीलों का निर्माण करते हैं। इसका मतलब है कि हमारा मंगल के वातावरण वाला मॉडल प्रभावी ढंग से मंगल की शक्तिशाली कैटाबेटिक हवाओं को नहीं पकड़ पा रहा है, जो कि ठंडे झोके हैं जो रात के समय चलते हैं। 

हमने पाया कि प्लूटो पर भी हवाएं बहुत अधिक तेज होंगी जो मिथेन या नाइट्रोजन की बर्फ को अपने साथ उड़ा सकें। इससे ये सवाल पैदा होता है कि प्लूटो की सतह पर रेत के टीले, जिन्हें स्पूतनिक प्लेंशिया कहा जाता है, क्या वाकई में ही टीले हैं!

इसकी बजाए वे सब्लिमेशन वाली तरेंगें होंगी। वे टीले जैसे दिखने वाले जमीन के हिस्से होंगे जो पदार्थ के तरल में बदलने से बने हुए दिखते हैं, न कि ठोस कणों के हवा में उड़ने से।
 

Source: hindi.gadgets360.com

Tech News

8MP कैमरा और 5000mAh बैटरी वाला Tecno Pop 6 Pro लॉन्च, मात्र 6 हजार रुपये में धाकड़ फीचर्स से लैस

Admin

Published

on

By

8MP कैमरा और 5000mAh बैटरी वाला Tecno Pop 6 Pro लॉन्च, मात्र 6 हजार रुपये में धाकड़ फीचर्स से लैस
Tecno ने भारतीय बाजार में Tecno Pop 6 Pro को लॉन्च कर दिया है। इससे बले इस स्मार्टफोन को बांग्लादेश में पेश किया गया था। अन्य Pop सीरीज स्मार्टअफोन की तरह Pop 6 Pro भी एक एंट्री लेवल स्मार्टफोन है जो कि पहली बार स्मार्टफोन खरीदने वालों के लिए बेस्ट ऑप्शन रहता है। Tecno Pop 6 Pro में क्वाड कोर प्रोसेसर और 5000mAh की बैटरी दी गई है। यहां हम आपको Pop 6 Pro की कीमत, उपलब्धता और स्पेसिफिकेशंस के बारे में बता रहे हैं।
 

Tecno Pop 6 Pro की कीमत और उपलब्धता

कीमत की बात की जाए तो Tecno Pop 6 Pro के 2GB + 32GB स्टोरेज वेरिएंट की कीमत 6,099 रुपये है। उपलब्धता की बात करें तो यह Tecno की ऑफिशियल साइट और ई-कॉमर्स साइट Amazon पर बिक्री के लिए उपलब्ध है। कलर ऑप्शन के तौर पर यह स्मार्टफोन Power Black और Peaceful Blue कलर ऑप्शन में उपलब्ध है।
 

Tecno Pop 6 Pro के स्पेसिफिकेशंस

स्पेसिफिकेशंस की बात की जाए तो Tecno Pop 6 Pro में 6.6 इंच की HD+ डिस्प्ले दी गई है, जिसके साथ वॉटरड्रॉप नॉच दिया गया है। डिस्प्ले का रेजोल्यूशन 720 × 1612 पिक्सल है और 270ppi पिक्सल डेंसिटी के साथ 120Hz टच सैंपलिंग सेट को सपोर्ट करता है। प्रोसेसर की बात करें तो Pop 6 Pro में क्वाड कोर MediaTek Helio A22 प्रोसेसर दिया गया है।। स्टोरेज की बात करें तो इसमें 2GB LPDDR4X RAM और 32GB eMMC5.1 स्टोरेज दी गई है। ऑपरेटिंग सिस्टम की बात करें तो यह स्मार्टफोन एंड्रॉयड 12 गो एडिशन पर बेस्ड HiOS 8.6 पर काम करता है।

कैमरा की बात करें तो इस स्मार्टफोन में 8 मेगापिक्सल प्राइमेरी शूट और AI लेसं के साथ ड्यूल रियर कैमरा सेटअप है। वहीं इसके फ्रंट में 5MP का कैमरा दिया गया है जो कि सेल्फी के काम आता है। बैटरी के लिए इसमें 5000mAh की बैटरी दी गई है जो कि एक बार चार्ज होकर 42 घंटे तक स्टेंडबाय रह सकती है। इस स्मार्टफोन में फेस अनलॉक फीचर दिया गया है। डाइमेंशन की बात करें तो इस स्मार्टफोन की लंबाई 164.85mm, चौड़ाई 76.25mm, मोटाई 8.75mm है। कनेक्टिविटी के लिए इस स्मार्टफोन में ड्यूल सिम, 5जी, वाई-फाई, ब्लूटूथ, जीपीएस और ओटीजी सपोर्ट मिलता है।
 

Source: hindi.gadgets360.com

Continue Reading

Tech News

Google की भारत में कानूनी मुश्किलों के बीच कंपनी की पॉलिसी हेड Archana Gulati का इस्तीफा

Admin

Published

on

By

Google Analytics पर यूरोप में लगा डेटा प्रोटेक्शन से खिलवाड़ का आरोप 
इंटरनेट सर्च कंपनी Google की भारत में पॉलिसी हेड Archana Gulati ने इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने कुछ महीने पहले ही यह पोस्ट संभाली थी। अमेरिकी टेक कंपनी गूगल देश में कम से कम दो एंटीट्रस्ट मामलों के फैसले का इंतजार कर रही है। Archana इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सरकारी थिंक टैंक के साथ काम कर चुकी हैं।

Reuters ने दो सूत्रों के हवाले से दी रिपोर्ट में Reuters के इस्तीफे के कारणों की जानकारी नहीं दी है। इस बारे में Archana ने टिप्पणी करने से मना कर दिया। गूगल को चलाने वाली कंपनी Alphabet ने भी इस बारे में कोई टिप्पणी नहीं की है। गूगल को भारत में एंटीट्रस्ट मामलों के साथ ही टेक सेक्टर के लिए कड़े रेगुलेशंस का सामना भी करना पड़ रहा है। कॉम्पिटिशन कमीशन ऑफ इंडिया (CCI) स्मार्ट टीवी मार्केट में गूगल के बिजनेस के तरीके, इसके एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम और इन-ऐप पेमेंट सिस्टम की जांच कर रहा है। सूत्रों ने बताया कि इस बारे में जल्द ही CCI का फैसला आ सकता है। 

गूगल में Archana के पास पब्लिक पॉलिसी एग्जिक्यूटिव्स की टीम की अगुवाई करने की जिम्मेदारी थी। यह टीम देश में कंपनी के लिए रेगुलेटरी जरूरतों की निगरानी करती है। कई वर्षों तक केंद्र सरकार की कर्मचारी रही Archana पिछले वर्ष मार्च तक सरकारी थिंक टैंक, नीति आयोग में डिजिटल कम्युनिकेशंसक के लिए ज्वाइंट सेक्रेटरी थी। इससे पहले वह CCI में भी एक वरिष्ठ अधिकारी के तौर पर दो वर्ष तक काम कर चुकी हैं।  बड़ी टेक कंपनियों ने केंद्र सरकार के कई पूर्व अधिकारियों को हायर किया है। इससे उन्हें डेटा और प्राइवेसी रेगुलेशन के साथ ही कॉम्पिटिशन लॉ की शर्तों को पूरा करने में मदद मिलती है। हाल ही में Google को सरकार ने गैर कानूनी लेंडिंग ऐप्स का इस्तेमाल रोकने के लिए कड़े नियम लागू करने के लिए कहा है। मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी ((MeitY) और रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ( RBI) ने गूगल को इन ऐप्स पर लगाम लगाने का निर्देश दिया है। डिजिटल लेंडिंग सेगमेंट में धोखाधड़ी के मामले बढ़ने के बाद RBI ने हाल ही में लेंडर्स से डिजिटल लेंडिंग सर्विसेज के लिए कड़े नियम बनाने को कहा था। 

इसका उद्देश्य बॉरोअर्स को जालसाजी से सुरक्षित करना था। गूगल ने फाइनेंशियल सर्विसेज ऐप्स के लिए अपनी स्टोर डिवेलपर प्रोग्राम पॉलिसी में बदलाव किया है। इसमें पर्सनल लोन ऐप्स के लिए अतिरिक्त शर्तें शामिल हैं। गैर कानूनी डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म्स पर लगाम लगाने के लिए सरकार और RBI ने गूगल से स्क्रूटनी बढ़ाने और यह पक्का करने के लिए कहा है कि केवल रेगुलेटर से स्वीकृति वाले लोन ऐप्स ही गूगल प्ले स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध हों। इसके साथ ही गूगल से इन ऐप्स के वेबसाइट्स और डाउनलोड के अन्य जरियों से डिस्ट्रीब्यूशन को भी कम करने के लिए कहा गया है। 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें और हमें गूगल समाचार पर फॉलो करें।

संबंधित ख़बरें

Source: hindi.gadgets360.com

Continue Reading

Tech News

मात्र 999 रुपये में मिल रहे ब्लूटूथ हेडफोन, दोबारा नहीं मिलेगा ऐसा ऑफर

Admin

Published

on

By

Amazon सेल : मात्र 999 रुपये में मिल रहे ब्लूटूथ हेडफोन, दोबारा नहीं मिलेगा ऐसा ऑफर
अगर आप अपने लिए कोई नया हेडफोन खरीदने का प्लान कर रहे हैं तो अमेजन सेल में बेस्ट ऑप्शन पर नजर डाल सकते हैं। जी हां इस लिस्ट में  boAt Rockerz 450, boAt NIRVANAA 751, Jbl Tune 760Nc, Sony WH-CH710N और Sennheiser HD 450SE शामिल हैं। अमेजन सेल में हेडफोन की कीमत में कटौती और बैंक ऑफर दिया जा रहा है। आइए इन हेडफोन के ऑफर्स और डील्स से लेकर कीमत आदि के बारे में जानते हैं।

boAt Rockerz 450 Bluetooth On Ear Headphones
अमजेन सेल में boAt Rockerz 450 की कीमत 3,990 रुपये है, लेकिन 75 प्रतिशत डिस्काउंट के बाद 999 रुपये में खरीदा जा सकता है। बैंक ऑफर में एसबीआई डेबिट कार्ड से भुगतान पर 300 रुपये का इंस्टेंट डिस्काउंट लिया जा सकता है।
अभी 999 रुपये में खरीदें।

boAt NIRVANAA 751 ANC Hybrid Active Noise Cancelling Bluetooth Wireless Over Ear Headphones
ऑफर को देखते हुए boAt NIRVANAA 751 की कीमत 7,990 रुपये है, लेकिन 62 प्रतिशत डिस्काउंट के बाद 2,999 रुपये में मिल रहा है। बैंक ऑफर की बात करें तो एसबीआई डेबिट कार्ड से पेमेंट पर 300 रुपये का इंस्टेंट डिस्काउंट लिया जा सकता है।
अभी 2,999 रुपये में खरीदें।

Jbl Tune 760Nc, Bluetooth Wireless Over Ear Active Noise Cancellation Headphones
ऑफर में Jbl Tune 760Nc की कीमत 7,999 रुपये है, लेकिन 29 प्रतिशत डिस्काउंट के बाद 5,699 रुपये में खरीदा जा सकता है। बैंक ऑफर में एसबीआई क्रेडिट कार्ड से भुगतान पर 10 प्रतिशत यानी कि 1250 रुपये का इंस्टेंट डिस्काउंट मिल सकता है।
अभी 5,699 रुपये में खरीदें।

Sony WH-CH710N Active Noise Cancelling Wireless Headphones
Amazon Great India Festival Sale 2022 में Sony WH-CH710N सिर्फ 14,999 रुपये में लिस्टेड है, मगर 60 प्रतिशत छूट के बाद 5,990 रुपये में उपलब्ध है। इस दौरान कुल 9,000 रुपये का डिस्काउंट मिल रहा है। बैंक ऑफर में SBI क्रेडिट कार्ड से पेमेंट पर 10 प्रतिशत यानी कि 1250 रुपये तक बचत हो सकती है।
अभी 5,990 रुपये में खरीदें।

Sennheiser HD 450SE Bluetooth 5.0 Wireless Over Ear Headphone
अमेजन ग्रेट इंडियन फेस्टिवल सेल में Sennheiser HD 450SE की कीमत 14,990 रुपये है, लेकिन 53 प्रतिशत डिस्काउंट के बाद 6,990 रुपये में मिल रहा है। इस दौरान कुल 9,000 रुपये का डिस्काउंट मिल रहा है। बैंक ऑफर की बात की जाए तो SBI क्रेडिट कार्ड से पेमेंट पर 10 प्रतिशत यानी कि 1250 रुपये तक बचत हो सकती है।
अभी 6,690 रुपये में खरीदें।

Affiliate links may be automatically generated – see our ethics statement for details.

Source: hindi.gadgets360.com

Continue Reading

Trending